सात समंदर पार से भोजपुरी सिनेमा पर पीएचडी करे पहुंचली कैथरीन

भोजपुरी देस दुनिया में त छवलहिं बा...लोग सात समुंदर पार से खिंचाइल चलि आव तारे। कैथरिन हार्डी के भोजपुरी सिनेमा आताना निमन लागल कि बान्हि छान्हि के चल देली। बनारस में हिंदी सिखली...आ अब भोजपुरी सिनेमा पर पीएचडी पूरा करे में जुटि गइल बाड़ी...




[स्रोत : लिंक ]

5 comments:

  1. भोजपत्तर में राउर परिचय पढला के बाद त आपन बात कहला बिना ना रहल गईल... ध्नयवाद..

    ReplyDelete
  2. कली बेंच देगें चमन बेंच देगें,

    धरा बेंच देगें गगन बेंच देगें,

    कलम के पुजारी अगर सो गये तो

    ये धन के पुजारी वतन बेंच देगें।

    हिंदी चिट्ठाकारी की सरस और रहस्यमई दुनिया में राज-समाज और जन की आवाज "जनोक्ति "आपके इस सुन्दर चिट्ठे का स्वागत करता है . . चिट्ठे की सार्थकता को बनाये रखें . नीचे लिंक दिए गये हैं . http://www.janokti.com/ , साथ हीं जनोक्ति द्वारा संचालित एग्रीगेटर " ब्लॉग समाचार " http://janokti.feedcluster.com/ से भी अपने ब्लॉग को अवश्य जोड़ें .

    ReplyDelete
  3. इस नए चिट्ठे के साथ हिंदी ब्‍लॉग जगत में आपका स्‍वागत है .. नियमित लेखन के लिए शुभकामनाएं !!

    ReplyDelete

भोजपुरी के ठीहा

इ भोजपुरी के अइसन ठीहा ह जाहां रउआ सभे के ऊ चीजु परोसे के कोसिस कईल जाला...जवन कहीं ना मिलि पावेला...भोजपुरी के जवन खांटी सावाद रहल हा...उ अब कमे सुने के मिलता...कगो अइसन चीजु बा जवन अब कहूं ना सुनाला...अइसने कुछु खोजे के कोसिस बा...'भोज पत्तर ' ए दिसा में 'मील के ठीहा' साबित होखे के चाहीं...अइसन उमीद बा...

अउर पढ़ीं सभे...

भांडार घर

जोड़ के डोर

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

Add to Google Reader or Homepage

 Subscribe in a reader

Followers

pH | MAIN PAGE | Bhagirath Abhiyan | The Happy Society | Haal Chaal | Hello Mithilaa
Thank you for your precious arrival here, now please spare some more of your less time and visit >>> iNDiA @ONCE

Template by Ourblogtemplates.com

Back to TOP